मरुप्रदेश का ऐलान इन जिलों के जोड़े से बनेगा नया राज्य तुरंत पढ़ें खबर का खुलासा

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

Rajasthan Divide News: हम आपको बताने वाले हैं कि कई दिनों से यह खबर चर्चा में बनी हुई है। कि राजस्थान कोदो अलग राज्यों में तोड़ा जाए परंतु गहलोत सरकार के द्वारा राजस्थान में जिलों का विभाजन किया गया है। और नए जिले बनाए गए हैं इसी कड़ी में राजस्थान के विभाजन को लेकर भी नई-नई खबरें सामने आ रही है। कि राजस्थान में मरुप्रदेश को अलग से एक राज्य बनाने की लगातार मांग की जा रही है।

तो चलिए हम आपको बताते हैं। कि यदि राजस्थान को बांटा गया तो इसका नया नाम क्या होगा और इसके जिले कौन-कौन से होंगे इसके बारे में हम आपके संपूर्ण जानकारी देंगे इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें यदि आप राजस्थान के बारे में अधिक जानना चाहते हैं।

Rajasthan Divide News: मरुप्रदेश के जितने भी जिले हैं। वहां बचाने वाली जनता की मांग अब बहुत तेजी से बढ़ रही है। और वह मरुप्रदेश के नाम से एक नए राज्य बनाने की मांग कर रहे हैं। हम आपको बता दें कि 1953 में भी मरुप्रदेश की जनता ने इसे अलग बनाने के लिए ज्ञापन दिया थाऔर 2008 में भी जय वीर गोदारा और उनके सभी दोस्तों ने इस मुद्दे को हवा दी थी।

Read Also –अब हर महीने ₹1500 आपके खाते में! जानिए इस योजना के बारे में और तुरंत आवेदन करें

विभाजन के बाद क्या नाम रखे जाएं

यदि राजस्थान को दो हिस्सों में बांट दिया जाएगा तो इन दोनों राज्यों की बॉर्डर अरावली को माना जाएगा क्योंकि दोनों तरफ जिलों से अलग-अलग राज्य बनाने के लिए जनता मांग कर रही है। हम यदि बात करते हैं पूर्वी हिस्से की तो यह है। मरुप्रदेश को अपना राज्य बनाएगी और दक्षिणी हिस्सा राजस्थान को अपना राज्य बनाएगी।

यदि राजस्थान से मरुप्रदेश को अलग कर दिया जाएगा तो इसमें 20 जिले होंगे जिनमें जैस लमेर जोधपुर ग्रामीण फलोदी सिरोहीनीमकाथानाकुचामन डीडवाना बीकानेर झुंझुनू चूरू अनूपगढ़गंगानगर और हनुमानगढ़ को शामिल किया जाएगा इसके अलावा मरुप्रदेश में सीकर जिले को भी सम्मिलित किया जाएगा

कहां जा रहा है। कि यदि राजस्थान से मरुप्रदेश को अलग किया जाएगा तो बॉर्डर के पास जितने भी जिले हैं। उनमें तेजी से विकास होगा और चुकी मरुप्रदेश में खनिज पदार्थ लवण भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं इस कारण इसे राज्य बनाने के लिए बहुत प्रयास किया जा रहे हैं।

मरुप्रदेश की राजधानी

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

यदि राजस्थान को दो अलग-अलग भागों में बांटा गया तो अलग-अलग राज्य बनाए जाएंगे परंतु उनकी राजधानी एक ही रहेगी यह हो सकता की जयपुर ही रखी जाए परंतु यदि जनता ने मांग की तो जोधपुर जिले को भी राजधानी बनाया जा सकता है।

Read Also –दीपावली पर सरकार का बड़ा तोहफा महिलाएं पाएंगी FREE गैस सिलेंडर, जानिए कैसे करें आवेदन!

नोट: हम आपको बता दें कि अभी सरकार के द्वारा राजस्थान को विभाजित करने के लिए किसी भी प्रकार का ऑफिशल स्टेटमेंट नहीं दिया गया है। यह मांग तो केवल जनता के द्वारा ही की जा रही है। परंतु कुछ लोग ऐसे भी है। जिन्होंने इस मांग का विरोध किया है लेकिन वर्तमान समय में राजस्थान सरकार में किसी भी राजनेता या राजनीतिक दल ने इसकी मांग नहीं की है।

Scroll to Top