Jyothy Labs Story: भाई से 5000 उधार लिए और आज बन गई 14000 करोड़ की कंपनी, ये है सफलता की कहानी

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

Jyothy Labs Story: आज इस लेख में हम आपको एक ऐसे बिजनेसमैन की कहानी के बारे में बताएंगे जैसे पढ़ते ही आप कुछ नया सीखेंगे और जानेंगे कि भले ही जीवन में कितनी बार असफलता का सामना करना पड़े परंतु जब हम कुछ ठान लेते हैं तो उसे पूरा करना ही चाहिए.

जी हां दोस्तों आपने कभी ना कभी उजाला नील का नाम तो जरुर सुना ही होगा और अपने अपने घर में इसका इस्तेमाल भी किया होगा.

उजाला नील किस कंपनी के द्वारा बनाया जा गया है और इसके फाउंडर कौन हैं इसके बारे में हम आपको बताएंगे सबसे ज्यादा 90 की दशक में उजाला नील फेमस था और हर घर में कपड़ा धोने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता था और आज भी ऐसे कई लोग हैं जो उजाला नील का इस्तेमाल अपने कपड़े धोने के लिए करते हैं.

तो चलिए जानते हैं इस लेख के माध्यम से की उजाला नील बनाने वाले कंपनी Jyothy Labs Story के बारे में और इस कंपनी को बनाने वाले एमपी रामचंद्रन के बारे में की कैसे उन्होंने अपनी मेहनत के दम पर इस कंपनी को शुरू किया औरवर्तमान समय में इसकी कीमत 14 करोड रुपए के आसपास है.

इस तरह आया Jyothy Labs का Idea

भारत के केरल राज्य में रहने वाले एमपी रामचंद्रन है इन्होंने अपनी पढ़ाई में पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद अकाउंटेंट के रूप में नौकरी करना शुरू कर दिया परंतु बचपन से ही उनका सपना था कि वह लोगों से कुछ हटकर नया करना चाहते हैं और खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते हैं.

एक दिन जब अकेले  बैठे थे तो उन्होंने सोचा मार्केट में अभी तक ऐसी कोई भी समान नहीं आया है जिस की कपड़ों को सफेद किया जा सके या कपड़ों की धूल अच्छे से निकल सकेयदि इसी में मैं अपना बिजनेस शुरू करूंगा तो अच्छी खासी कमाईकर सकता हूं.

इस तरह रामचंद्र ने एक नया व्हाइटनर बनाने का बिजनेस शुरू करने के बारे में सोच लियाऔर सबसे पहले वह अपने किचन मेंव्हाइटनर बनाने का काम शुरू कर रहे थे कई बार उन्होंने व्हाइटनर बनाया और कई बार वह फेल हो गए.

परंतु उन्होंने कभी भीहर नहीं मानी और मेहनत करते रहेकई सालों तक मेहनत करने के बाद उन्हें एक ऐसाफॉर्मूला मिला जिसेउन्होंने मार्केट में लेकर आए और एक व्हाइटनर बनाया.

Read Also – DAP Khad Price List Today 2023

रामचंद्र ने भाई से लिए थे ₹5000 उधार

केरल में 1983 में ही रामचंद्र ने अपने बिजनेस को शुरू कर लिया था परंतु ज्यादा पैसा ना होने के कारण अपनी पैतृक जमीन पर ही एक कंपनी शुरू कर दी जिसके लिए उन्होंने अपने भाई से ₹5000 उधार दिए थेऔर 5000 की कंपनी वर्तमान समय में 14000 करोड़ की कंपनी बन चुकी है.

प्रोडक्ट घर-घर जाकर बेचे थे 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जब रामचंद्रन ने इस कंपनी को शुरू किया तो उनके साथ केवल 6 लोग ही थे जिन्होंने इस कंपनी को आगे बढ़ाने के लिए बहुत अधिक मेहनत कीउसे समय कंपनी द्वारा उजाला सुप्रीम लिक्विड फैब्रिक बनाया जा रहा था.

जिसे उसे कंपनी के 6 लोग घर-घर जाकर बेच रहे थे. इसके बाद लोगों की दिलों में उजाला व्हाइटनर ने इतनी जगह बना ली कि लोग खुद ही उसे खरीदनापसंद करने लगे और केवल एक प्रोडक्ट ने इस कंपनी को इतनी ऊंचाइयों तक पहुंचा दिया कि इसके बाद उन्होंने और भी कई तरह के प्रोडक्ट बनाना शुरू कर दिया.

Read Also – खुशखबरी सरकार देगी किराए से रहने वाले विद्यार्थियों को ₹2000 हर महीने

आज बन चुकी हैं 14000 करोड़ की कंपनी

रामचंद्रन की सालों की मेहनत और हार न करने की वजह से आज उनकी कंपनी की वैल्यू 14000 करोड़ के आसपास हो चुकी है और मार्केट में लिक्विड फैब्रिक इंडस्ट्री में इस कंपनी का बहुत बड़ा नाम है.

इस कंपनी का नाम रामचंद्र ने अपनी बेटी ज्योति के नाम पर रखा है और इस कंपनी को सभी ज्योति लैब के नाम से ही जानते हैं उन्होंने अपनी मेहनत और अनुभव के आधार पर एक फैब्रिक वाइटनर बनाया जिसने बाजार में आते ही तहलका मचा दिया.

हालांकि इस कंपनी के फाउंडर रामचंद्रन ने इस कंपनीसे रिटायरमेंट ले लिया है परंतु फिर भीवह इस कंपनी के अध्यक्ष के रूप मेंकाम कर रहे हैं और इस कंपनी की सीईओ उनकी बेटी ज्योति है 

फाउंडर का मानना है.

Read Also – बैंक का चक्कर छोड़ो अब लोन लो बिना ब्याज के साथ में सब्सिडी

इस कंपनी के फाउंडर रामचंद्रन कहते हैं कि मैं हमेशा खुद पर विश्वास रखा और कई बार असफल होने के बाद भी मैंने कई बार प्रयास किया जिसके कारण ही आज एक मल्टी मिलियन डॉलर कंपनी खड़ी की जा चुकी है.

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

Note : उम्मीद है दोस्तों हमारे द्वारा दी गई ज्योति लैब स्टोरी आपको पसंद आई होगी आप इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ताकि उनके अंदर भी एक नया जज्बापैदा हो सकेइसी तरह की नई-नई बिज़नेस स्टोरी जानने के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करें धन्यवाद

Scroll to Top