Chandrayaan 3 Update:  चंद्रयान-3 की वापसी की तारीख आखिरकार आ गई सामने! 14 दिनों में होगा धमाकेदार वापसी का इंतजार!

चंद्रयान 3 अपडेट: भारत में अंतरिक्ष की दुनिया में ऐसा शानदार कारनामा करके दिखा दिया है जिससे पूरी दुनिया के साथ-साथ भारत के दुश्मन भी डर गए हैं भारत के लिए यह सफलता बहुत ज्यादा प्रगतिशील बनाने के लिए भूमिका निभाती है.

23 अगस्त 2023 का दिन अब हमारे लिए यादगार रहेगा। कल, इसरो ने चंद्रयान 3 को चंद्रमा की सतह पर सफलतापूर्वक लैंड किया है। यह दिन हमारे लिए वाकई महत्वपूर्ण है। अब, चंद्रयान और विक्रम लैंडर चंद्रमा पर 14 दिन तक रहेंगे।

चंद्रमा की सतह पर विभिन्न प्रकार की रिसर्च साइंटिस्ट के द्वारा किए जाते हैं विक्रम और विज्ञान लेंडर के रूप में 14 दिनों तक वह काम करेंगे जिसके बाद आपके मन में सवाल आ सकता है कि 14 दिनों के बाद क्या होगा? क्या chandrayaan-3 14 दिन के बाद पृथ्वी पर वापस आ सकता है यह सभी जानकारी इस लेख में हमने आपको विस्तार से बताइए तो आखरी तक इस लिंक को जरूर पढ़ें.

क्या होगा 14 दिन बाद चंद्रयान का?

सबसे पहले, हम जानते हैं कि 14 दिन बाद चंद्रयान 3 के साथ क्या होने वाला है। चंद्रमा पर 14 दिन की अवधि में 14 दिन की दिनकारी और 14 दिन की रात होती है। रात के समय ठंडी हवा बहुत अधिक रहती है। विक्रम लैंडर और प्रज्ञान को धूप में काम करने की क्षमता होती है, और रात के समय वे निष्क्रिय हो जाते हैं।

लेकिन इसरो के वैज्ञानिकों ने यह मान्यता दी है कि 14 दिन के बाद भी विक्रम और प्रज्ञान को सक्रिय करने का प्रयास किया जा सकता है। यदि ऐसा होता है, तो यह भारतीय चंद्र मिशन के लिए एक बड़ी सफलता होगी।

क्या चंद्रयान 3 चंद्रमा से वापस आ सकता है?

अब आता है कि क्या चंद्रयान 3 अपने प्रयोग और मिशन को पूरा करने के बाद पृथ्वी पर वापस आ सकता है। यह सच नहीं है, विक्रम और प्रज्ञान को धरती पर लौटने की कोई योजना नहीं है, बल्कि उन्हें 14 दिनों के बाद चंद्रमा पर ही रहना होगा।

चंद्रमा के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

यह जानकारी भी महत्वपूर्ण है कि चंद्रयान 3 का कुल वजन 3900 किलोग्राम है, जिसमें पोपलेशन मॉडल का वजन 2147 किलोग्राम है, और लैंडर मॉड्यूल का वजन 1752 किलोग्राम है, जिसमें प्रज्ञान भी शामिल है, जिसका वजन 26 किलोग्राम है।

23 अगस्त को, शाम 6:04 बजे, विक्रम लैंडर ने चंद्रमा की सतह पर सफलतापूर्वक सॉफ्ट लैंडिंग की ली है, और इसकी जानकारी वैज्ञानिकों द्वारा साझा की गई है। यह जानकारी महत्वपूर्ण है कि चंद्रयान 3 चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर उतरा है, और भारत पहला देश है जिसने दक्षिणी ध्रुव पर चंद्रयान की मिशन को सफलतापूर्वक लॉन्च किया है।

Scroll to Top