कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने राजस्व अधिकारियों को दिए निर्देश

नर्मदापुरम। कलेक्टर नीरज कुमार सिंह ने शनिवार को कलेक्ट्रेट में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में आरसीएमएस में दर्ज राजस्व एवं आपराधिक मामलों की तहसीलवार समीक्षा की। उन्होंने सभी एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदारों को निर्देशित किया कि 3 माह से 6 माह के लंबित नामांकन, बटवारा, बंटन के प्रकरणों का गंभीरता पूर्वक निराकरण किया जाए।

उन्होंने प्रकरणों के निराकरण में 70 प्रतिशत से कम प्रगति वाले तहसीलदारों पर असंतोष व्यक्त किया और 1 माह के अंदर प्रगति लाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि वन विस्थापन के प्रकरणों का भी पूरी सतर्कता से निराकरण किया जाएं।

आपराधिक प्रकरणों की समीक्षा कर कलेक्टर श्री सिंह ने प्रति सप्ताह निर्धारित प्रारूप में अंतरिम एवं फाइनल बाउंडोवर की जानकारी भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह जानकारी संबंधित कोर्ट् के बाहर भी चस्पा की जाए। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि आचार संहिता लागू होने के दौरान भी रेवेन्यू कोर्ट्स का सुचारू रूप से संचालन किया जाए।

कलेक्टर श्री सिंह ने मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना फेज 3 के प्रकरणों में पट्टे तैयार कर सभी पात्र हितग्राहियों को लाभान्वित किए जाने के निर्देश सभी तहसीलदारों को दिए। उन्होंने सभी किसानों की ई केवाईसी भी किए जाने के निर्देश तहसीलदारों को दिए।

उन्होंने कहा की किसानों के ई केवाईसी में बनखेड़ी, सिवनीमालवा एवं माखननगर विशेष ध्यान दें। एनआईसी के माध्यम से किसानों के मोबाइल नंबर पर ई केवाईसी कराने के मैसेज भेजे जाएं। ई केवाईसी के ज्यादा लंबित वाले गांवों में नायब तहसीलदारों की ड्यूटी लगाकर किसानों की ई केवाईसी की कार्यवाही की जाएं।

ई केवाईसी में पंचायत के अमले का भी सहयोग ले। कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व वसूली में गति लाने के निर्देश दिए सभी तहसीलदारों को दिए। उन्होंने सभी तहसील प्रमुख रूप से नर्मदापुरम नगर, माखननगर एवं बनखेड़ी को राजस्व मांग की भी पुनः समीक्षा के निर्देश दिए।

उच्च न्यायालय में लंबित प्रकरणों की भी कलेक्टर श्री सिंह ने समीक्षा की। उन्होंने कहा कि प्रकरणों का पूरी सावधानी और गंभीरता के साथ निराकरण किया जाए। वयवहार न्यायालयों में लम्बित प्रकरणों का भी निराकरण किया जाएं। 

कलेक्टर श्री सिंह ने सीएम हेल्पलाइन एवं जनसुनवाई की शिकायतों का भी त्वरित निराकरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने 11 सितंबर तक छूटे हुए सभी 18 वर्ष आयु के मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ने के निर्देश दिए। बैठक में समस्त एसडीएम, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार उपस्थित रहें।

Scroll to Top