Bird Flu Symptoms:इन 3 संकेतों को न नजरअंदाज करें, बर्ड फ्लू की आशंका हो सकती है; दिल दहला देने वाली खबर, 9 महीने की बच्ची में बर्ड फ्लू का खतरा!

Bird Flu Signs: बारिश का मौसम चल रहा है ऐसे में कई लोग सर्दी जुखाम और बुखार से बहुत परेशान रहते हैं  कुछ समय पहले जैसे कोरोना ने परेशान किया वैसे लोग अब आई फ्लू से परेशान हो गए हैं.

लेकिन आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप बर्ड फ्लू भी काफी तेजी से बढ़ रहा है और इस बीमारी ने अपना असर दिखाना धीरे धीरे शुरू कर दिया है झारखंड में फिलहाल में 9 महीने की बच्ची को लेकर इस तरह का मामला सामने आया है.

Bird Flu in Jharkhand: जैसे जैसे समय बीतता जा रहा है नई-नई बीमारियों का असर देखने को मिल रहा है वर्तमान समय में आई फ्लू काफी तेजी से बढ़ रहा था और इसी बीच में एक नई बीमारी बर्ड फ्लू ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है  बीते शुक्रवार  के दिन पहले ही झारखंड में बर्ड फ्लू से 9 महीने की बच्ची को भर्ती किया गया है.

उसके स्बाव को अब जांच करने के लिए लैब में भेज दिया गया है जिसमें उसके अंदर बर्ड फ्लू होने की लक्षण पाए गए हैं इसलिए आप भी बर्ड फ्लू के लक्षणों को आसानी से पहचान सकते हैं और डॉक्टर के आधार पर इन लक्षणों को पहचानना बहुत जरूरी भी है.

यदि वक्त रहते इन सभी लक्षणों को पहचान कर इसका डॉक्टर ट्रीटमेंट नहीं लिया गया तो मरीज अपनी जान गवा सकता है आइए जानते हैं इसलिए इसमें कि आप कैसे बर्ड फ्लू के लक्षणों की पहचान करेंगे.

बर्ड फ्लू का पहला मामला झारखंड में आया 

एक रिपोर्ट में झारखंड की राजधानी रांची में बने राजस्थान आयुर्विज्ञान संस्थान में एक 9 वर्षीय बच्ची का इलाज चल रहा है जो कि बर्ड फ्लू से संक्रमित हो चुकी है संस्थान में एक बड़े डॉक्टर ने शुक्रवार के दिन इस बात की जानकारी दी है कि झारखंड के रामगढ़ जिले की रहने वाली इस बच्ची को बर्ड फ्लू है और उसका इलाज सही समय पर शुरू हो गया है नहीं तो वह बीमारी के कारण अपनी जान भी करवा सकती थी.

ये 3 खास लक्षण बच्ची में दिखे 

जो डॉक्टर बच्ची का इलाज कर रहे हैं उनके अनुसार बच्ची को सांस लेने में दिक्कत हो रही थी और उसे बुखार और कब की समस्या भी थी जैसे ही बच्ची को बहुत परेशानी होने लगी तो उसे तुरंत ही उसके माता-पिता ने अस्पताल में भर्ती कराया गया.

शिशु रोग के डॉ राजीव मिश्रा ने बताया है कि बच्ची के नाक का स्बाव जांच के लिए लैब में भेजा गया था जिसमें कि रिपोर्ट के अनुसार बच्ची को बर्ड फ्लू है इस बात की पुष्टि की जा चुकी है.

इस बात की भी पुष्टि डॉ राजीव मिश्रा 

इस बीमारी के लिए कोरोना की तरह सावधानियां बरतनी होगी क्योंकि यह बर्ड फ्लू का पहला केस है और इसका इलाज मेरे डिपार्टमेंट में ही चल रहा है वर्तमान में बच्ची को सभी मरीजों से दूर रखा गया है और उसके स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देते हुए उसकी देखरेख की जा रही है.

Scroll to Top