क्या आप जानते हैं? टॉयलेट सीट से भी ज्यादा गंदे होते हैं तकिए के कवर! देखें, खुद को बचाने के ये आसान तरीके।

सभी लोगों को रात में अच्छी नींद लेने के लिए  तकिए की जरूरत होती है और तकिए का प्रयोग सभी को करना भी चाहिए यदि आप तकिए के कवर को नियमित तौर पर नहीं  बदलते हैं तो इससे बीमारी होने का खतरा बढ़ जाता है रात में आराम से सोने के लिए एक अच्छे बिस्तर का होना बहुत जरूरी होता है

इसके साथ ही एक तकिया का होना भी आवश्यक होता है अच्छे से नींद को पूरा करने के लिए तकिया आरामदायक होना चाहिए परंतु क्या आप जानते हैं कि यदि आप तकिए के कवर को नियमित रूप से बदलते हैं या नहीं.

क्योंकि इसके कारण आप बीमार पड़ सकते हैं एक खोज में यह पाया गया है कि तकिए के कवर पर 8 से 17000 गुना अधिक बैक्टीरिया पनपते हैं

कार्नेल विश्वविद्यालय जो कि अमेरिका में स्थित है इसमें कुछ विशेषज्ञों ने इस बात का दावा किया है कि तकिया की कबर पर स्वाब  टेस्ट सेपता चला है कि हमारे शरीर की डेड स्किन से और  मुंह की लार कारण कबर कीटाणुओं से भर जाता है.

इस खोज में एक पति की खबर को 7 दिन तक बिना धोए उस पर बैक्टीरिया के बारे में रिसर्च किया गया तो पता चला कि यह बैक्टीरिया ही आपकी त्वचा में कई प्रकार के संक्रमण को पैदा कर सकते हैं.

कुछ अध्ययनों में यह भी पाया गया है कि अधिकतर लोग अपने घर के चादरिया तकिया कवर को 24 दिनों में बदलते हैं साथ ही स्किन विशेषज्ञ डॉक्टर हेडली किंग ने भी इस बात को बताया है कि जब हम बिस्तर पर सोते हैं तो इस समय बैक्टीरिया हमारी मृत त्वचा कोशिका और पसीने से अपने भोजन को प्राप्त करते हैं और तकिए पर तेज गति से बढ़ते जाते हैं.

सिल्क का कवर कॉटन की कवर से अच्छा होता है

अधिकतर लोगों के घरों में तकिए के कवर को कॉटन का ही रखा जाता है क्योंकि घर की महिलाएं कॉटन कोई बहुत अच्छा मानती है परंतु यह बिल्कुल गलत है.

आपको तकिए का कवर सिल्क का रखना चाहिए क्योंकि इसमें पिंपल्स की समस्या नहीं होती है एक शोध में इस बात की पुष्टि की गई है कि सिल्वर का कवर कॉटन की कवर से काफी बेहतर होता है

इन सामग्रियों को भी  रेगुलर बदलना चाहिए

आपको बेहतर जीवन यापन करना है तो तकिए के कवर के साथ ही बेडशीट ब्यूटी ब्लेंडर तोलिया मेकअप ब्रश टूथब्रश इन को रेगुलर आधार पर बदलें जिससे आपको कोई स्वास्थ्य संबंधी परेशानी ना हो 

Scroll to Top