खुशखबरी सरकार देगी किराए से रहने वाले विद्यार्थियों को ₹2000 हर महीने

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं। जो गांव में रहते हैं। और गांव से शहर आने में बहुत समय लग जाता है। ऐसे में वह पढ़ाई ही नहीं कर पाए क्योंकि आने जाने में वह इतना थक जाते हैं। की पढ़ाई करने का टाइम ही नहीं मिलता हैइस कारण वह शहर में आकर किराए से रहते हैं।

कई बार स्थिति ऐसी हो जाती है। कि परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण बच्चों को बहुत मुश्किल से किराए की घर में रख कर पढ़ाई करवाई जाती है। परंतु अब किसी भी परिवार को चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है। 

आज हम आपको बताने बाहर जा रहे हैं। कि प्रदेश में जितने भी विद्यार्थी किराए से रह रहे हैं। उनकी चिंता अब सरकार द्वारा की जा रही है जी हां दोस्तों हम आपको बता रहे हैं। कि सरकार द्वारा विद्यार्थियों के लिए आवास भत्ता सहायता योजना शुरू की गई है।

आवास भत्ता सहायता योजना के बारे में और इसमें कैसे आवेदन करें और किन-किन दस्तावेजों की जरूरत होगी इन सभी के बारे में हम आपको जानकारी देंगे तो चलिए जानते हैं। क्या है आवास भत्ता योजना

MP Awas Sahayata Yojana 2023 कई होनहार विद्यार्थी होते हैं। जिन्हें पढ़ाई के लिए अपने घर को छोड़कर शहर में किराए के घर में रहना पड़ता है। तभी वह अपनी पढ़ाई को अच्छे से कर पाते हैं ऐसे विद्यार्थियों की परेशानी को देखते हुए सरकार द्वारा एक नई पहल की गई है। 

जो भी विद्यार्थी अपने गांव को छोड़कर शहर किराए के मकान में पढ़ने के लिए रहते हैं। उन्हें मध्य प्रदेश आवास सहायता योजना का लाभ मिलेगा  हम आपको बता दें जितने भीअनुसूचित जाति और जनजाति से संबंध रखने वाले छात्र हैं उन्हें हर महीने ₹2000किराया मध्य प्रदेश सरकार द्वारा दिया जाएगा। 

Read Also –घर बनाने के लिए सरकार देगी जमीन आवासीय भू अधिकार योजना 2023 का फायदा उठाएं

आवास भत्ता योजना के लिए पात्रता

  • विद्यार्थी अनुसूचित जाति का होना चाहिए।
  • विद्यार्थीकिसी भी सरकारी संस्था या गैर सरकारी संस्था में रेगुलर छात्र होना चाहिए।
  • विद्यार्थी का किसी भी सरकारी ना रह रहा हो।
  • विद्यार्थी के परिवार की वार्षिक आय6 लाख रुपए होनी चाहिए इससे ज्यादा नहीं।
  • विद्यार्थी की ग्राम पंचायत या उसके घर के पास कोई महाविद्यालय नहीं होना चाहिए।

आवाज भत्ता योजना के लिए आवेदन कैसे करें 

  • आवेदन करने के लिए विद्यार्थी को इसकी ऑफिशल वेबसाइट http:scholarshipportal.mp.nic.in/ पर जाना होगा।
  • यदि विद्यार्थी योग्य माना जाता है तो उसके खाते में पैसे ट्रांसफर कर दिए जाते हैं।
  • स्वीकृति के तौर पर उसे अपने विद्यालय के प्राचार्यके दस्तक चाहिए रहेंगे।
  • यदि विद्यार्थी 2000 से ज्यादा बड़े किराए के घर में रहता है तो उसे खुद ही अपना किराया देना होगा सरकार द्वारा केवल ₹2000 ही उसे दिए जाएंगे।
  • यदि वह विद्यार्थी फेल हो जाता है या उसे किसी कारण बस कॉलेज से निकाल लिया जाता है तो उसे इस योजना के योग्य नहीं समझा जाएगा।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस योजना का प्रारंभ अनुसूचित जाति और जनजाति के गरीब और बेसहारा बच्चों कोआर्थिक मदद देने के लिए प्रारंभ किया है। ताकि जो बच्चे घर से बाहर रह रहे हैं। उन्हें कुछ हद तक आर्थिक मदद दी जा सके कहीं ऐसे परिवार होते हैं। 

जिनके पास पैसा नहीं होता इस कारण वह अपने बच्चों को आगे की पढ़ाई करने से मना कर देते हैं। परंतु मध्य प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने के बाद अब हर वर्ग का बच्चाआगे की पढ़ाई आसानी से कर सकेगा और अपना भविष्य उज्जवल करेगा

आवाज भत्ता योजना मैं कितना पैसा मिलेगा 

  • जो भी विद्यार्थी भोपाल जबलपुर इंदौर ग्वालियर उज्जैन में रहेगा उसे ₹2000 महीने दिए जाएंगे।
  • यदि वह अपने जिले में रहता है तो उसे हर महीने 1250 रुपए दिए जाएंगे।
  • यदि वह अपनी तहसील और संभाग में रहता है तो उसे हर महीने ₹1000 दिए जाएंगे।

योजना का लाभ लेने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now
  • अनुसूचित जाति और जनजाति का सर्टिफिकेट
  • आधार कार्ड
  • लैंडलॉर्डएफिडेविटऔर आग
  • बैंक अकाउंट
  • पासपोर्टसाइज
  • मोबाइल नंबर
  • कॉलेज का नाम
  • कक्षा कानाम
  • 10वीं और 12वीं की मार्कशीट

मध्य प्रदेश आवास सहायता योजना के लाभ

Read Also –बैंक का चक्कर छोड़ो अब लोन लो बिना ब्याज के साथ में सब्सिडी 

  • इस योजना का लाभगरीब वर्ग के छात्रों को मिलेगा।
  • मध्य प्रदेश में रहने वाली सभी अनुसूचित जाति और जनजाति के विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ मिलेगा।
  • गरीब वर्ग के बच्चों की पढ़ाई ना रोके और वह आगे ऐसी अच्छी शिक्षा प्राप्त कर सके इसलिए इस योजना को प्रारंभ किया गया है।
  • जितने भी एससी एसटी वर्ग के गरीब छात्र हैं उन्हेंरहने के लिए किराया दिया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ मुख्यतः दसवीं और बारहवीं पास किए हुए छात्रों को दिया जाएगा।
  • ताकि वह अपना ग्रेजुएशन पूरा कर उच्च शिक्षा प्राप्त कर सके।
  • कई विद्यार्थी ऐसे होते हैं जिन्हें पढ़ाई करने के लिए घर से बाहर जाना पड़ता है और उनके परिवार के पास इतना पैसा होता नहीं कि वह अपने बच्चों को अच्छीशिक्षा दिला पाए इसलिए वह उन्हें पढ़ने से रोक देते हैं।
  • परंतु जब इस योजना के माध्यम से उन्हें रहने के लिए किराया भत्ता दिया जाएगा तो वह आगे पढ़ सकेंगे।
  • विद्यार्थी को महानगर जिले और संभाग में रहने के लिए अलग-अलग किराया दिया जाएगा।
  • राज्य सरकार द्वारा की गई इस पहल के माध्यम से किसी भी गरीब पर के माता-पिता को अपने बच्चों की पढ़ाई के लिए अब चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है।
  • इस योजना के माध्यम से मध्य प्रदेश के शिक्षा स्थल में काफी सुधार आएगा।

Note :उम्मीद है। दोस्तों हमारे द्वारा दी गई जानकारी आपको पसंद आई होगी इसी तरह और नहीं जानकारी को पढ़ने के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप को ज्वाइन करेंऔर इसलेख को अपने दोस्तों तक शेयर करें ताकि वह भी इस योजना का लाभ ले सके 

Scroll to Top