भावांतर भरपाई योजना का पैसा आने वाला है, जल्दी जानें कब तक मिलेगा! Haryana Bhavantar Bharpai Yojana

Haryana Bhavantar Bharpai Yojana : हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कृषि को बढ़ावा देने के लिए तथा किसान मेहनत करके जिस फसल का उत्पादन करते हैं उस फसल की सही कीमत देने के लिए भावांतर भरपाई योजना को प्रारंभ किया गया है.

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा सब्जियों व फलों की संरक्षित मूल्य तय किया गया है यदि किसान अपनी सब्जी व फलों को मंडी ले जा कर भेजता है और उससे उनका उचित दाम नहीं मिलता और कम पैसे मिलते हैं तो सरकार द्वारा उन्हें जो नुकसान हुआ है उसकी भरपाई की जाती है.

इस योजना के प्रारंभ हो जाने के कारण आप हरियाणा की किसान भाई बिना किसी चिंता के पलवा सब्जी की खेती आसानी से शुरू कर सकते हैं आपको बता दें कि इस योजना में सरकार ने कुल मिलाकर 3 फलों व सब्जियों के मूल्यों को संरक्षित मूल्य पर तय किया गया है.

जो भी किसान भाई इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं वह Haryana Bhavantar Bharpai Yojana मैं ऑनलाइन आवेदन करके इस योजना का लाभ ले सकते हैं इस योजना में यदि आपने पहले ही आवेदन कर दिया है और जानना चाहते हैं कि आपको पैसा कब मिलेगा तो इस लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें.

हरियाणा भावांतर भरपाई योजना 2023 लेटेस्ट अपडेट्स (Haryana Bhavantar Bharpai Yojana)

आपने देखा होगा कि अधिकतर किसान भाई फल और सब्जियों की खेती करना पसंद नहीं करते हैं क्योंकि इनकी कीमतों में कभी भी बदलाव आ जाता है कई बार तो कीमत बढ़ जाती है तो अच्छे भाव मिल जाते हैं.

परंतु कीमत गिर जाने से किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ता है और अपनी फल व सब्जियों को बहुत कम कीमतों पर बेचना होता है इस कारण हरियाणा सरकार ने किसानों को समस्या से राहत दिलाने के लिए भावांतर भरपाई योजना को शुरू किया है.

इस योजना से किसान भाई बेफिक्र होकर किसी की फसल को गा सकते हैं क्योंकि यदि उनकी फसल बाजार में कम कीमतों पर बिकेगी तो सरकार उनकी मदद करेगी.

हरियाणा मुख्यमंत्री ने बताया

हाल ही मुख्यमंत्री हरियाणा के मुख्यमंत्री ने किसानों से बात करते हुए कहा है कि किसान भारत की अर्थव्यवस्था को बढ़ाने के लिए आधार स्तंभ है इसलिए किसी भी किसान को मजबूर नहीं होने देंगे यह योजना किसान भाइयों को आत्मनिर्भर बनाने की विधि से ही शुरू की गई है इस योजना में अभी तक सरकार द्वारा 33 करोड़ 26 लाख की राशि दी गई है जो कि हरियाणा राज्य के 12000 से अधिक किसानों के खाते में ट्रांसफर कर दी गई है

Haryana Bhavantar Bharpai Yojana का पैसा कब मिलेगा

  • इस योजना का लाभ लेने के लिए किसान भाइयों को निम्नलिखित प्रक्रिया को अपनाना होगा तभी वह इसका लाभ ले सकेंगे.
  • जो भी किसान भाई इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं उन्हीं अपनी फसल   जे-फॉर्म पर ही बेचना जरूरी होगा.
  • फसल बेचने के बाद रसीद की पूरी जानकारी bby ई पोर्टल पर अपलोड करनी होगी प्रत्येक मंडी का बाजार कीमत में इस जानकारी को अपलोड करने की सुविधा दी जाती है.
  • जो भी किसान अपनी  फल व सब्जियों को बेचता है और उनके दाम संरक्षित मूल्य से कम मिलते हैं तो उन किसानों को भावांतर योजना का लाभ लेने के लिए पात्र माना जाता है
  • किसान जब अपनी फसल को  जे-फॉर्म पर भेजता है तो उसे निर्धारित की गई राशि के अनुसार ही पैसा मिलता है.
  • किसानों की फसल का भाव जिन्नत मंडी के भाव पर ही किया जाता है इस तरह प्रत्येक किसान अपनी फसल के नुकसान को भरपाई आसानी से इस योजना के माध्यम से प्राप्त कर सकता है.

 फसलों की लिस्ट Bhavantar Bharpai Yojana में शामिल किया गया है.

1आलू
2टमाटर
3प्याज
4फूलगोभी
5मटर
6मिर्ची
7शिमला मिर्च
8मूली
9लहसुन

योजना की आवश्यक जानकारी

वर्तमान समय में मौसम के अनुसार टमाटर, आलू, प्याज और फूलगोभी पर इस योजना के द्वारा लाभ किसानों को मिल रहा है और दूसरे मौसम के आधार पर किसानों को लाभ दिया जा रहा है. 

भावांतर भरपाई योजना पात्रता 

  • इस योजना का लाभ हरियाणा के मूलनिवासी को ही दिया जाएगा.
  • किसानों को कुछ विशेष फसलों पर ही भावांतर भरपाई योजना का लाभ मिलेगा.
  • जो भी किसान इस योजना का लाभ लेना चाहता है वह निश्चित तारीख तक रजिस्ट्रेशन करवा ले.

भावांतर भरपाई योजना दस्तावेज 

1मूल निवासी प्रमाण पत्र
2पासपोर्ट साइज फोटो
3जमीन से जुड़े दस्तावेज
4बैंक अकाउंट पासबुक
5फसल बेचने की रसीद
6आधार कार्ड
7मोबाइल नंबर

भावांतर भरपाई योजना रजिस्ट्रेशन कैसे करें ?

यदि कोई भी किसान भाई इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो उसे हरियाणा के बागवानी योजना के पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करना होगा आइए अब हम आपको बताते हैं कि रजिस्ट्रेशन की प्रोसेस क्या रहेगी

  • सबसे पहले आपको हरियाणा के बागवानी योजना के ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा.
  • उसके बाद आपको इस ऑफिशियल वेबसाइट के होमपेज पर किसान पंजीकरण के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा.
  • उसके बाद आपकी स्क्रीन के सामने ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कौन देखेगा जिसमें सभी जानकारी आपके द्वारा भरना होगा.
  • जब भी कोई किसान इस योजना का फॉर्म भरता है तो उसे सभी जानकारी भरने से पहले एक बार चेक कर लेना चाहिए.
  • फॉर्म भरने के अंतिम में बैंक की जानकारी और डॉक्यूमेंट अपलोड करना रहता है.
  • इस प्रकार आपका भावांतर भरपाई योजना का रजिस्ट्रेशन आसानी से हो जाता है और आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर मिलता है.

इस प्रकार आप आसानी से हरियाणा की बागवानी योजना पर रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी कर सकते हैं इस प्रक्रिया को पूरा करने के बाद हरियाणा के द्वारा चलाई जाने वाली सभी योजना का लाभ आप घर बैठे ले सकते हैं.

Q. भावांतर भरपाई योजना में कितनी फसल है?

भावांतर भरपाई योजना में बागवानी की 19 और मसालों की दो फसलें शामिल है यह सभी फसल किसान के द्वारा अपने खेत में उगाई जाती है

Q. भावांतर भरपाई योजना की शुरुआत कब हुई?

भावांतर भरपाई योजना की शुरुआत 30 दिसंबर 2017 हुई

अंतिम शब्दों में

दोस्तों आज की इस लेख में हमने आपको हरियाणा सरकार के द्वारा चलाई जा रही किसानों के हित की लिए चलाई जा रही भावांतर भरपाई योजना के बारे में विस्तार से सभी जानकारी बताइए आशा करते हैं दोस्तों हमारे द्वारा दी गई जानकारी से आप खुश होंगे इसी प्रकार और भी जानकारी प्राप्त करने के लिए हमारी वेबसाइट की पुश नोटिफिकेशन को फॉलो करें.

Scroll to Top