नर्मदापुरम: हिंदी केवल भाषा नहीं एक संस्कृति है श्रुति गोखले

नर्मदापुरम। हिंदी केवल संपर्क की भाषा मात्र नहीं है, यह एक संस्कृति है। यह बात प्राध्यापक श्रुति गोखले ने हिंदी दिवस के अवसर पर समेरिटंस हायर सेकंडरी स्कूल में आयोजित कार्यक्रम के दौरान कही। उन्होंने कहा कि हमें दूसरी भाषाओं का भी ज्ञान प्राप्त करना चाहिए.

लेकिन हिंदी का सम्मान अवश्य करना चाहिए। इसके पहले विद्यालय के विद्यार्थियों ने गीत, कविता प्रस्तुत की। छात्र भरत और सेजल को उनकी प्रस्तुति पर श्रीमती गोखले ने नकद पुरस्कार भी दिया। 

कार्यक्रम को संस्था के निदेशक डा आशुतोष शर्मा ने भी संबोधित किया। प्राचार्य श्रीमती प्रेरणा रावत ने श्रीमती गोखले का सम्मान शाल श्रीफल देकर किया। संस्था के हिंदी शिक्षकों का सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन और आभार अंजू तिवारी ने व्यक्त किया।

Scroll to Top