नर्मदापुरम: नर्मदापुरम में बारिश थमने से लोगों को मिली राहत    

  • तवा डैम के सभी गेट, बाढ़ का खतरा टला, नर्मदा का जलस्तर भी हुआ कम

नर्मदापुरम। जिले में तीन दिन से जारी तेज बारिश का दौर रविवार को खत्म हुआ। सुबह 9 बजे के बाद बादल छटने के साथ ही तेज धूप निकल आई। आसमान भी साफ हो गया। तवा डैम से छोड़ा जा रहा पानी बंद कर दिया गया। 

रविवार सुबह तक 1 गेट 6 फीट तक खुले थे।जिसे 10.30 बजे बंद कर दिया गया। मां नर्मदा नदी का जलस्तर भी अब धीरे-धीरे कम होने लगा है। अब नर्मदापुरम में बाढ़ आने का खतरा फिलहाल टल गया है। जिससे लोगों को एक बड़ी राहत मिली। बता दे तीन दिन तक नर्मदापुरम जिलेभर में तेज बारिश हुई।

तेज बारिश के चलते क्षेत्र के नदी नाले उफान पर आ गए। तवा डैम के लबालब हो जाने से सभी 13 गेट सीजन में पहली बार 20 फीट तक खोले गए। जिससे नर्मदा नदी में उफान आ गया। नर्मदा सेठानी घाट पर अलार्म लेवल के करीब तक पहुंची। 

बाढ़ का खतरा मंडराता देख कलेक्टर नीरज कुमार सिंह, एसपी डॉक्टर गुरकरन सिंह ने बाढ़ राहत कैंप, निचली बस्तियों व पंप हाउस का निरीक्षण कर तैयारियां की। हालांकि बाढ़ का पानी शहर में घूसता उससे पहले ही बारिश कम हो गई और नर्मदा नदी का जलस्तर भी कम हाेने लगा। 

नर्मदा के धीरे-धीरे कर कम होते जलस्तर ने प्रशासन और स्थानीय लोगों की चिंता को कम किया। रविवार दोपहर 1 बजे नर्मदा नदी का जलस्तर 952.40 फीट पहुंच गया। 24 घंटे में करीब 11 फीट जलस्तर उतर गया।

जिले में अब तक औसत 1098.4 मिलीमीटर वर्षा हुई दर्ज 

जिले में अब तक औसत 1098.4 मिलीमीटर वर्षा दर्ज हुई है। गत वर्ष इसी अवधि में औसत 1672.4 मिलीमीटर वर्षा हुई थी। नर्मदापुरम में 13.6 मिलीमीटर, सिवनीमालवा में 23.0, इटारसी में 10.8, माखननगर में 11.0, सोहागपुर में 0.0, पिपरिया में 0.0, बनखेड़ी में 0.0, पचमढ़ी में 10.2, एवं तहसील डोलरिया में 13.0 मिलीमीटर वर्षा हुई है। 

अधीक्षक भू-अभिलेख नर्मदापुरम ने बताया है कि 1 जून से 17 सितम्‍बर 2023 को प्रात: 8.30 बजे तक तहसील नर्मदापुरम में 1269.9 मिलीमीटर, सिवनीमालवा में 831.0, इटारसी में 856.6, माखननगर में 918.0, सोहागपुर में 1060.4, पिपरिया में 1370.8, बनखेड़ी में 1152.0, पचमढ़ी में 1730.4 एवं डोलरिया तहसील में 702.4 मिलीमीटर वर्षा हुई है। 

जबकि गत वर्ष इसी अवधि में तहसील नर्मदापुरम में 1604.4 मिलीमीटर, सिवनीमालवा में 1643.0, इटारसी में 1688.8, माखननगर में 1466.0, सोहागपुर में 1670.2, पिपरिया में 1737.2, बनखेड़ी में 1333.1, पचमढ़ी में 2314.1 एवं तहसील डोलरिया में 1595.0 मिलीमीटर वर्षा हुई थी। 

जिले की सामान्य औसत वर्षा 1370.5 मिलीमीटर है। सेठानी घाट पर नर्मदा जी का अलार्म स्‍तर  964.00 फीट है एवं खतरे का जलस्तर 967.00 फीट है।

वर्तमान में सेठानी घाट पर नर्मदा जी का जलस्तर शाम 05 बजे 951.20 फीट है। इसी प्रकार तवा जलाशय का वर्तमान जलस्तर 1165.20 फीट, बरगी जलाशय का 422.85 मीटर एवं बारना जलाशय का जलस्तर 347.89 मीटर है।

Scroll to Top