SBI UPI News: एसबीआई ने UPI पेमेंट सर्विस बंद कर दी! खाता धारकों के लिए बड़ा झटका, जानिए पूरी चौंकाने वाली खबर

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

SBI UPI News: आज हम आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आए हैं यदि आप स्टेट बैंक आफ इंडिया के ग्राहक है तोहम आपको बता दें कि एसबीआई बैंक नेखाता धारक ग्राहकों के लिए बहुत ही बड़ा झटका दिया है यूपीआई पेमेंट को लेकरजिसके द्वारा लाखों यूजर्सको एक new अपडेट दि तो चलिए जानते हैं ऐसे विस्तार से – 

SBI UPI News Updates 

जिन लोगों का खाता एसबीआई में है उन्हें यूपीआई ट्रांजैक्शन करने में बहुत परेशानी झेलनी पड़ रही हैऔर जो लोग भीपैसों का लेनदेन ऑनलाइन माध्यम से करते हैं उन्हें सबसे ज्यादा दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है.

कई बार यह समस्याग्राहकों के सामने आकर खड़ी हो जाती है कुछ समय पहले ही एसबीआई ने एक स्टेटमेंट जारी किया है और उसमें बैंक द्वारा स्पष्ट रूप से कहा गया है कि एसबीआई बैंक द्वारा यूपीआई ट्रांजैक्शन और दूसरे सर्वर टेक्नोलॉजी में भी कुछ तरह के अपडेट किए गए हैं.

Read Also – अब हर महीने ₹1500 आपके खाते में! जानिए इस योजना के बारे में और तुरंत आवेदन करें

जिसके कारण ग्राहकों को थोड़ी परेशानी झेलनी पड़ेगी बैंक किसके लिए आपसे माफी मांगती है और बहुत ही जल्द हम आपको इस समस्या से राहत दिलाएंगे.

बैंक में बताया है कि हम किसी भी यूपीआई सेवा को बंद नहीं कर रहे हैं इसमें कुछ नई तकनीक को जोड़ा जा रहा है जिसके कारण आपको परेशानी झेलनी पड़ रही है परंतु बहुत ही जल्द हम सभी समस्याओं से छुटकारा दिला देंगे.

Read Also – लोन की परेशानियों से मुक्ति पाने का जादू! इस तरीके से होगा पैसा माफ

ऐसे कई एसबीआई बैंक के ग्राहक है जो बार-बार ट्विटर पर ट्वीट करकेइसके बारे में पूछ रहे हैं कि ऑनलाइन ट्रांजैक्शन क्यों नहीं हो पा रहा है इसका कारण क्या है और इस समस्या को जल्द से जल्द समाधान करें.

Join Telegram Group Now
Join Facebook Group Now
JOIN Whatsapp Group Now

हमारे द्वारा दी गई जानकारी से यदि आपके मन में उठ रहे सभी सवालोंके जवाब मिल गए हो तो यह लेख आपअपने दोस्तों और मित्रोंको जरुर शेयर करें से कि वह भी होने वाली समस्याओं का कारण पता कर सकेइसी तरह की जानकारियां प्राप्त करने के लिएहमारे व्हाट्सएप ग्रुपएवं टेलीग्राम ग्रुप को ज्वाइन करें धन्यवाद 

Scroll to Top