नर्मदापुरम: 28 अगस्त से 31 अगस्त तक प्रत्येक मतदान केंद्रों पर  लगेंगे विशेष कैंप

मतदाता सूची में नाम जुड़वाने का अंतिम अवसर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा मतदाता सूची में नाम जुड़वाने डोर टू डोर किया जाएगा भ्रमण 

नर्मदापुरम। विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण के तहत जिले में छूटे हुए मतदाताओं के नाम जोड़ने की कार्यवाही 31 अगस्त तक जारी है। आज रविवार 27 अगस्त के विशेष शिविर के अतिरिक्त अब 28 अगस्त से 31 अगस्त तक प्रत्येक मतदान केंद्रों पर विशेष शिविर लगाएं जाएंगे। इस दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा अपने क्षेत्र में डोर टू डोर भ्रमण कर छूटे हुए मतदाताओं विशेष रूप से 18 से 19 वर्ष के मतदाताओं एवं महिलाओं के फॉर्म भराएं जाएंगे।  

सेक्टर अधिकारी भी इस दौरान फील्ड में रहकर नाम जोड़ने की कार्यवाही कराएंगे। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह ने सभी सेक्टर अधिकारियों को इस संबंध में निर्देश दिए हैं। शनिवार को कलेक्टर श्री सिंह एवं पुलिस अधीक्षक डॉक्टर गुरकरण सिंह ने आगामी विधानसभा निर्वाचन के दृष्टिगत सोहागपुर एवं पिपरिया में सेक्टर अधिकारियों एवं सेक्टर पुलिस अधिकारियों की संयुक्त बैठक ली।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि यह मतदाता सूची में नाम जुड़वाने का अंतिम अवसर है। मतदाता सूची में कोई भी 18 से 19 वर्ष के मतदाता और महिला का नाम न छुटे। 1 अक्टूबर की स्थिति में 18 वर्ष आयु पूर्ण करने वाले युवाओं के नाम भी जोड़े जाएं। सेक्टर अधिकारियों के साथ रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एवं सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी सतत मॉनिटरिंग करें। 

कलेक्टर एवं एसपी ने विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण गतिविधियों के साथ संवेदनशील एवं क्रिटिकल मतदान केंद्रों की भी सेक्टरवार समीक्षा की। उन्होंने निर्देशित किया कि क्रिटिकल एवं संवेदनशील मतदान केंद्रों को चिन्हित कर वहां आवश्यक कार्यवाही की जाएं। उन्होंने क्रिटिकल एवं संवेदनशील मतदान केंद्रों की जानकारी निर्धारित फॉर्मेट में शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए। 

उन्होंने सख्त निर्देश दिए कि निर्वाचन के कार्य में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। पुलिस अधीक्षक डॉ सिंह ने सभी सेक्टर पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया कि आचार संहिता के उल्लंघन,अवैध शराब के विक्रय, आर्म्स एक्ट के उल्लंघन, अपराधो की स्थिति सहित अन्य कानून एवं व्यवस्था के मुद्दों की निर्धारित बिंदु पर सेक्टरवार जानकारी बनाएं। संवेदनशील केंद्रो की निर्धारित प्रारूप वीएम 1, वीएम 2 एवं वीएम 3 में व्यवस्थित जानकारी तैयार करें। 

यह जानकारी अपने सेक्टर ऑफिसर के साथ साझा करें। उन्होंने कहा कि सेक्टर अधिकारी एवं सेक्टर पुलिस अधिकारी अनिवार्य रुप से मतदान केंद्रों का संयुक्त भ्रमण करें। वलनरेबल मैपिंग के लिए संयुक्त रूप से 3 भ्रमण किया जाए। उन्होंने पुलिस बल को अवैध शराब के विक्रय, आर्म्स एक्ट के उल्लंघन सहित अन्य अपराधो के विरुद्ध निरंतर प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देशदिए। 

इस दौरान कलेक्टर एवं एसपी ने पिपरिया एवं सोहागपुर के स्ट्रांग रूम का निरीक्षण कर निर्वाचन सामग्री के वितरण के लिए सभी आवश्यक व्यवस्थाएं किए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने पिपरिया के ग्राम सिंघोड़ी एवं सिंघोड़ा के मतदान केंद्रों और सोहागपुर में ग्राम किवलारी के केंद्रो भी निरीक्षण कर बीएलओस को 31 अगस्त तक सभी 18 प्लस आयु के मतदाताओं के नाम जुड़वाने के निर्देश दिए। 

निरीक्षण के दौरान पिपरिया में एसडीएम संतोष कुमार तिवारी, एसडीओपी पिपरिया , एसडीएम सोहागपुर  बृजेन्द्र रावत, एसडीओपी मदन मोहन सहित सभी सेक्टर ऑफिसर एवं सेक्टर पुलिस ऑफिसर उपस्थित रहें।

कलेक्टर ने नागरिकों से की मतदाता सूची में नाम जुड़वाने की अपील 

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी नीरज कुमार सिंह ने नागरिकों से अपील की है कि वे मतदाता सूची का अवलोकन जरूर करें। वे यह देखें की मतदाता में उनका नाम है या नहीं। मतदाता सूची में नाम न होने पर वे आवेदन कर अपना नाम जुड़वा सकते हैं। 

मतदाता सूची में नाम जोड़ने, संशोधन एवं निरसन के लिये रविवार 27 अगस्त से 31 अगस्त तक विशेष शिविर आयोजित किए जायेंगे। जिले में 31 अगस्त तक मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य होगा। कोई भी नागरिक संबंधित मतदान केन्द्रों पर बीएलओ के पास जाकर अपना नाम मतदाता सूची में जुड़ा है या नहीं देख सकते हैं। 

आगामी 31 अगस्त तक प्रत्येक मतदान केंद्रों पर बीएलओ उपस्थित रहेंगे। साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं और बीएलओ द्वारा भी घर-घर जाकर आवेदन लिए जाएंगे। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जो नागरिक 1 अक्टूबर 2023 की तारीख पर 18 साल की उम्र पूरी कर रहे हैं उनका नाम मतदाता सूची में जोड़ने के लिए अग्रिम रूप से आवेदन लिए जा रहे हैं। 

आगामी 31 अगस्त तक प्राप्त हुए आवेदनों का निराकरण 22 सितंबर 2023 तक किया जाएगा। उन्होने बताया कि 4 अक्टूबर को मतदाता सूची का अंतिम प्रकाशन होगा। नाम जुड़ने के बाद स्पीड पोस्ट के माध्यम से संबंधित मतदाताओं के वोटर आईडी कार्ड दिए गए पते पर पहुंचाये जायेंगे। उन्होने बताया कि मतदाता सूची में नाम जोड़ने की प्रक्रिया मोबाइल एप अथवा पोर्टल के माध्यम से भी ऑनलाइन की जा सकती है।

Scroll to Top